रवीन्द्र प्रभात

विकिपिडिया नं
थन झासँ: navigation, मालादिसँ
रवीन्द्र प्रभात
Ravindra prabhat.jpg
बूगु ५ एप्रिल कृ.स.१९६९
महिंदवारा, सीतामढ़ी, बिहार, भारत
ज्या हिन्दी साहित्यकार

रवीन्द्र प्रभात छम्ह नांजाम्ह हिन्दी साहित्यकार खः।[१] [२]

जीवनी[सम्पादन]

वेकयागु जन्म ५ एप्रिल कृ.स.१९६९ य् बिहार यागु सीतामढ़ी जिल्ला यागु नापं महिंदवारा गांय् जुगु खः।[३] [४] प्रारंभिक शिक्षा सीतामढ़ी नापं च्वना यानादिल। भूगोल प्रतिष्ठा बिहार विश्वविद्यालय, मुजफ्फरपुर य् पत्रकारिता मा स्नातकोत्तर उत्तर प्रदेश राजर्षि टंडन मुक्त विश्वविद्यालय इलाहावाद जुया दिल ।[५][६]

च्वेगु शैली[सम्पादन]

वेकयागु लेखन-शैली वर्णणात्मक खः गुकिलि पात्रयागु प्रत्येक मनोवैज्ञानिक सोचयागु विवरण दै। पात्रयागु चरित्र-निर्माण सिक्क याकनं जुइ छय् धासा पात्र छम्ह सामान्य-सरल मनु अतिरिक्त मेगु छुं नंजुइ मखु। वेकयागु अप्व बाखंय् पात्रयागु सोच घटना स्वया प्रधान जुइ। ताकि बचा रहे लोकतन्त्र थुकिगु उदाहरण खः।[७]

साहित्यिक कृति[सम्पादन]

नेपाली काङ्ग्रेस पार्टी क वरिष्ठ नेता र पूर्व कियाबिनेट मंत्री अर्जुननरसिंह केसी क साथ अंतर्राष्ट्रीय ब्लगर सम्मेलन, काठमाण्डौ मा रवीन्द्र प्रभात

उपन्यास

  • ताकि बचा रहे लोकतन्त्र[८]
  • प्रेम न हाट बिकाय[९]

काव्य-संग्रह

  • हम सफर[१०]
  • मत रोना रमज़ानी चाचा[११]
  • स्मृतिशेष[१२]

प्रसिद्ध बाखं

  • हिन्दी ब्लगिन्ग् का इतिहास [१३]
  • चौबे जी की चौपाल

संपादन

  • समकालीन नेपाली साहित्य[१४]
  • हिन्दी ब्लोगिंग: अभिव्यक्ति की नई क्रान्ति[१५]
  • ऊर्विजा (अनियतकालिक)
  • फगुनाहट (वार्षिक)
  • संवाद (मासिक)
  • वटवृक्ष (त्रैमासिक)
  • परिकल्पना समय (मासिक)

सम्मान[सम्पादन]

  • ब्लॉग श्री सम्मान[१६]
  • ब्लॉग भूषण सम्मान[१७]
  • संवाद सम्मान[१८]
  • सृजन श्री सम्मान(हिन्दी ब्लोगिंग का इतिहास)यागु लागि[१९]
  • बाबा नागार्जुन जन्मशती कथा सम्मान(ताकि बचा रहे लोकतन्त्र)यागु लागि[२०]
  • प्रबलेस चिट्ठाकारिता शिखर सम्मान(हिन्दी ब्लोगिंग : अभिव्यक्ति की नई क्रांति)यागु लागि[२१]
  • हिन्दी साहित्य श्री सम्मान[२२]

स्वयादिसँ[सम्पादन]

सन्दर्भ:[सम्पादन]

  1. Manoj Kumar Pandey. A conversation with Ravindra Prabhat. Another Subcontinent. “Ravindra Prabhat Today we have many type of new applications, which will help in promoting Hindi very fast on Internet.”
  2. ओपेन् लयिब्रेरि मा उपस्थिति
  3. गद्य कोश मा रवीन्द्र प्रभात
  4. रवीन्द्र प्रभात को व्यक्तित्व र कृतित्व को चर्चा सृजनागाथा मा
  5. विश्व व्यापी उपस्थिति
  6. विश्व व्यापी उपस्थिति
  7. Ravindra Prabhat's second novel released Today
  8. ताकि बचा रहे लोकतन्त्र, रचयिता- रवीन्द्र प्रभात, प्रकाशक- हिंद युग्म प्रकाशन, 1, जिया सराय, हौज खास, नई दिल्‍ली-110016, भारत, वर्ष- 2011, ISBN:8191038587,ISBN-13:9788191038583
  9. प्रेम न हाट बिकाए , रचयिता- रवीन्द्र प्रभात, प्रकाशक- हिंद युग्म प्रकाशन, 1, जिया सराय, हौज खास, नई दिल्‍ली-110016, भारत, वर्ष- 2012,पृष्ठ संख्या : 2 (भूमिका), ISBN:9381394105,ISBN-13:9789381394106
  10. खोजबीन,पाक्षिक पत्रिका,कला मंदिर प्रधान पथ सीतामढ़ी,15.12.1991,पृष्ठ संख्या : 2,लेखक : बसंत आर्य,आलेख शीर्षक : हमसफ़र : यथार्थ और कल्पना की धूप छाव
  11. मत रोना रमज़ानी चाचा , रचयिता- रवीन्द्र प्रभात, प्रकाशक- काव्य संगम प्रकाशन,इंदिरानगर,सीतामढ़ी-843302, भारत, वर्ष- 1999,
  12. रवीन्द्र प्रभात की पुस्तकें
  13. हिन्दी ब्लोगिंग का इतिहास,लेखक -रवीन्द्र प्रभात,प्रकाशक-हिन्दी साहित्य निकेतन,बिजनौर,भारत, वर्ष- 2011,पृष्ठ : 180, ISBN:978-93-80916-14-9
  14. समकालीन नेपाली साहित्य , संपादक - रवीन्द्र प्रभात, प्रकाशक- उर्वीजा प्रकाशन,वार्ड न.13,भबदेपुर,सीतामढ़ी-843302, भारत, वर्ष- 1995,
  15. हिन्दी ब्लॉगिंग : अभिव्यक्ति की नयी क्रान्ति, संपादक - अविनाश वाचस्पति,रवीन्द्र प्रभात, प्रकाशक- हिन्दी साहित्य निकेतन,बिजनौर, भारत, वर्ष- 2011,पृष्ठ संख्या : 376, ISBN:978-93-80916-05-7
  16. ऐतिहासिक पड़ाव-खटीमा ब्लॉगर मीट
  17. [http://bhadas4media.com/article-comment/1081-2011-12-14-05-19-39.html कई हिंदी ब्लागरों को 'ब्लाग भूषण' सम्मान
  18. [जनसंदेश टाइम्स,हिन्दी दैनिक,लखनऊ संस्कारण,लेखक : डॉ ज़ाकिर आली रजनीश,01 मार्च 2011,Page No.11,शीर्षक : ब्लोगिंग को सार्थक करती परिकल्पना]
  19. रवीन्द्र प्रभात 'सृजन श्री' सम्मान
  20. [लीगेसी इंडिया, मासिक के अक्‍टूबर 2012 अंक के ब्‍लॉगरी स्‍तंभ में प्रकाशित समाचार]
  21. [लीगेसी इंडिया, मासिक के अक्‍टूबर 2012 अंक के ब्‍लॉगरी स्‍तंभ में प्रकाशित समाचार]
  22. [राष्ट्रीय सहारा (उमंग),राष्ट्रीय संस्करण,नई दिल्ली, 30.12.2012 (रविवार) पृष्ठ संख्या :1]

पिनेयागु स्वापूतः[सम्पादन]